Breaking News
 

Donald Trump & Kim Jong Donald Trump & Kim Jong

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन के बीच ऐतिहासिक समझौता

Jun 13, 2018

पूरी दुनिया ने मंगलवार को उस वक्त राहत की सांस ली जब सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप से अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग के बीच हुई ऐतिहासिक शिखर वार्ता के कामयाब होने की खबर आई.

पूरी दुनिया में तानाशाह शासक के नाम से जाने जाने वाले किम जोंग उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए तैयार हो गए.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन सिंगापुर में जिस गर्मजोशी से मिले उसे देखकर यह कहना मुश्किल था कि एक समय में ये दोनों नेता एक-दूसरे के देश को तबाह करने की धमकी देते थे. भारतीय समयानुसार सुबह करीब 6.30 बजे दोनों नेता सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप के कैपेला रिजॉर्ट में पहुंचे. होटल पहुंचने के बाद दोनों नेताओं ने एक दूसरे से हाथ मिलाया और फोटो खिंचवाए.

इसके बाद दोनों नेताओं की अकेले में बातचीत शुरू हुई. करीब 40 मिनट तक दोनों नेता सीधे बात करते रहे. इस बातचीत के बाद ट्रंप और किम के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत भी हुई. दोनों दौर की बातचीत करीब 90 मिनट तक चली, जिसके बाद ट्रंप ने कोरिया को परमाणु हथियारों के खात्मे के लिए राजी कर लिया. बैठक के बाद दोनों नेताओं ने साथ में लंच किया और रिजॉर्ट के अंदर टहलते हुए भी दिखाई दिए. ट्रंप ने वार्ता को ईमानदार और सार्थक करार दिया तो किम ने कहा कि दुनिया आने वाले दिनों में बड़ा बदलाव देखेगी.

डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग के बीच दो दौर की बातचीत के बाद दोनों नेताओं ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जहां दोनों ने समझौते पर हस्ताक्षर किए. इसके मुताबिक उत्तर कोरिया परमाणु कार्यक्रम को पूरी तरह रोकने के लिए तैयार हो गया है.

दोनों देशों की ओर से जारी संयुक्त बयान की बात करें तो, किम जोंग उन कोरियाई प्रायद्वीप में 'पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण' के लिए तैयार हैं. बदले में अमेरिका ने उत्तर कोरिया को सुरक्षा मुहैया कराने की गारंटी दी है. बयान में कहा गया है कि अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच संबंधों के नए दौर की शुरुआत हुई है. कोरियाई प्रायद्वीप पर स्थाई और स्थिर शांति व्यवस्था बनाने के संयुक्त प्रयास होंगे. दोनों देश एक दूसरे के कैदियों की अदला-बदली को तैयार हैं. दोनों देश समझौते की शर्तों को जल्द से लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. सिंगापुर शिखर सम्मेलन के परिणामों को लागू करने के लिए अमेरिका और उत्तर कोरिया उच्च स्तरीय बैठक करेंगे.

दोनों नेताओं के संयुक्त बयान जारी करने के बाद ट्रंप ने किम जोंग को व्हाइट हाउस आने का न्योता दिया. ट्रंप ने किम की खूब तारीफ की और उन्हें बेहद क्षमतावान करार दिया. ट्रंप और किम ने दोनों ने जोर देकर कहा कि उन्होंने बीती बातों को पीछे छोड़ने का फैसला किया है. हालांकि उत्तर कोरिया पर अभी पाबंदियां जारी रहेंगी और अमेरिका अभी दक्षिण कोरिया से अपने सैनिक भी नहीं हटाएगा.

ट्रम्प और उत्तर कोरियाई तानाशाह के बीच बातचीत कामयाब होने पर दुनिया ने राहत की सांस ली है. भारत ने अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच हुई वार्ता का स्वागत किया है. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘ये एक सकारात्मक कदम है, भारत कोरियाई प्रायद्वीप में वार्ता और कूटनीति के जरिए शांति और स्थिरता लाने के सभी प्रयासों का हमेशा से समर्थन करता रहा है. भारत को विश्वास है कि इस समझौते का दोनों देश पूरी तरह पालन करेंगे, जिससे कोरियाई प्रायद्वीप में शांति और स्थिरता लाने का रास्ता प्रशस्त करेगा.’

कुल मिलाकर वार्ता से शांति की उम्मीद बढ़ी है और इससे ट्रंप की इस बात को और बल मिला है कि युद्द तो कोई भी कर सकता है, लेकिन शांति लाना सिर्फ बहादुरों के बस का काम है.

Login to post comments

Weather

Mostly Sunny

32°C

New Delhi

Mostly Sunny

Humidity: 49%

Wind: 11.27 km/h

  • 24 Jun 2018

    Mostly Sunny 41°C 31°C

  • 25 Jun 2018

    Mostly Sunny 41°C 32°C

Facebook Like

Media Partners

Success Party India Exquisite Pageant

Featured Videos GNN

Top News

Calender

« June 2018 »
Mon Tue Wed Thu Fri Sat Sun
        1 2 3
4 5 6 7 8 9 10
11 12 13 14 15 16 17
18 19 20 21 22 23 24
25 26 27 28 29 30